भँवरा

ये फूलों का रस पीकर मचलते हुए भँवरे